भारत को मिला पहला राफेल लड़ाकू विमान, रक्षा मंत्री ने राफेल में भरी 30 मिनट की उड़ान

0
66
bharat-india-ko-mila-pahla-rafale-fighter-aircraft-rajnath-singh-test-fly-IndiNews
Image Credit: ANI

भारत द्वारा 36 राफेल ख़रीदे जाने की घोषण के बाद से देश में हुई राजनीतिक बयानबाज़ियों ने इस राफेल डील को चर्चित बना दिया. सालों से हो रही देरी के बाद आख़िरकार आज भारतीय वायु सेना की 87वीं वर्षगांठ के दिन देश को पहला राफेल फ़ाइटर प्लेन मिला. देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ख़ुद इस मौक़े पर मेरीनेक स्थित दसॉ प्लांट में मौजूद थे, उन्होंने विमान सौंपे जाने के बाद शस्त्र पूजा की. इस दौरान उन्होंने विमान पर ऊं लिखकर पूजा की और राफेल की टेस्टिंग उड़ान से पहले उसके पहियों के नीचे दो नींबू भी रखे गए, जो कि हिंदू धार्मिक रीति-रिवाजों का हिस्सा माना जाता है.

फ्रांस ने भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान RB 001 सौंप दिया. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विजयदशमी के मौके पर मंगलवार को 36 राफेल विमानों में से पहले विमान को औपचारिक रूप से हासिल कर लिया. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मीडिया को बताया कि फरवरी 2021 तक हम 18 राफेल विमानों की डिलीवरी हासिल करेंगे और अप्रैल-मई 2022 तक हमें सभी 36 विमान मिल जाएंगे. पहले चार विमानों की खेप मई 2020 तक भारत पहुंच जाएगी. साथ हीं रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जोड़ दिया की यह हमारी आत्मरक्षा का एक हिस्सा है न कि किसी के खिलाफ आक्रामकता का संकेत. ये एयरक्राफ्ट एक निवारक है.

इस मौक़े पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत को मिले पहले राफेल में भरी उड़ान, यह उड़ान लगभग 30 मिनट का था और रक्षा मंत्री के साथ राफेल बनाने वाली कम्पनी दसॉ एविएशन के हेड टेस्ट पायलट फिलिप ड्यूचेटो मौजूद रहे.

bharat-india-ko-mila-pahla-rafale-fighter-aircraft-rajnath-singh-test-fly
Image Credit: ANI

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि ये उड़ान बेहद रोमांचक और बहुत आरामदायक रही. ये पल बेमिसाल और अनोखा था. मैंने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन मैं किसी सुपर सोनिग स्पीड एयरक्राफ्ट में उडूंगा. रक्षा मंत्री ने कहा कि ये उड़ान बेहद रोमांचक और बहुत आरामदायक रही. ये पल बेमिसाल और अनोखा था. मैंने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन मैं किसी सुपर सोनिग स्पीड एयरक्राफ्ट में उडूंगा.

राफेल विमान सम्बंधित कुछ ख़ास जानकरियाँ:

  • यह दो इंजन वाला लड़ाकू विमान है, जिसे हर तरह के मिशन में भेजा जा सकता है.
  • अत्याधुनिक हथियारों से लैस होगा राफेल, प्लेन के साथ मिटिओर मिसाइल भी है.
  • 150 किमी की बियोंड विजुअल रेंज मिसाइल और हवा से जमीन पर मार वाली स्कैल्प मिसाइल से भी होगा लैस.
  • स्कैल्प मिसाइल की रेंज 300 किमी, हथियारों के स्टोरेज के लिए 6 महीने की गारंटी.
  • अधिकतम स्पीड 2,130 किमी/घंटा और 3700 किमी. तक मारक क्षमता.
  • एक मिनट में 60,000 फ़ुट की ऊंचाई और 4.5 जेनरेशन के ट्विन इंजन से लैस.
  • 24,500 किलो भार उठाकर ले जाने में सक्षम और 60 घंटे अतिरिक्त उड़ान की गारंटी.
  • 75% विमान हमेशा ऑपरेशन के लिए तैयार रह सकते हैं, परमाणु हथियार ले जाने में भी सक्षम है.
  • अफगानिस्तान और लीबिया में अपनी ताकत का प्रदर्शन कर चुका है राफेल
  • भारतीय वायुसेना के हिसाब से इस विमान में कई फेरबदल किए गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here