बिहार के बीजेपी विधायक अनिल सिंह, बेटी को कोटा से घर ले आए

0
173

देश में जब से लॉकडाउन लगा है बिहार के लोग कई राज्यों में फंसे हुए हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार ये कह रहे हैं कि जो जहां हैं उन्हें वहीं रहना चाहिए. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने जब कोटा से छात्रों को लाने के लिए बसें भेजीं तो नीतीश ने इसे लॉकडाउन के ख़िलाफ़ बताया.

बिहार में जेडीयू और बीजेपी गठबंधन की सरकार है. इस बीच बीजेपी के विधायक ने नीतीश की बातों को अनसुना कर दिया. बीजेपी विधायक अनिल सिंह अपनी बेटी को कोटा से घर ले आए. अनिल सिंह को नवादा जिल प्रशासन ने पास जारी किया था.

बीजेपी विधायक को पास जारी किए जाने के बाद विपक्ष नीतीश पर निशाना साध रहा है. बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया.

मालूम हो कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने लॉकडाउन की वजह से कोटा में फंसे छात्रों को लेकर अपनी मंशा साफ कर दी है .उन्होंने स्पष्ट किया था कि कोटा में फंसे छात्रों को वापस नहीं बुलाया जाएगा. इससे पहले शनिवार को भी नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान स्पष्ट कर दिया था कि कोटा में फंसे छात्रों को बुलाने की जो मांग की जा रही है पूरी तरह से गलत है .अगर ऐसा होगा तो फिर लॉकडाउन का क्या मतलब?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here