पाकिस्तान झूठ बोल सकता, सबुत नहीं – मिग 21 ने मार गिराया F16

0
708

जैसा की युद्ध के समय अक्सर होता है दोनों ही पक्ष अपने अवाम और सेना के मनोबल को ऊँचा रखने के लिए तथ्यों को बढ़ा चढ़ाकर बताते है, परन्तु कई बार इस चक्कर में वो तथ्यात्मक गलती कर जाते हैं. और जब वो गलती किसी देश के प्रधानमंत्री या सेना के बड़े अधिकारियों द्वारा किया गया हो तो वह किसी बदनामी से कम नहीं होती. आज कल सोशल मीडिया के कारन किसी भी इनफार्मेशन को छुपा पाना आसान नहीं रह गया है चाहे वह कोई देश ही क्यों न हो.

इस पोस्ट में हम 27 फरबरी सुबह भारत और पाकिस्तान के एयर फाॅर्स के बिच हुए डॉग फाइट के बाद किये गये दावों की परताल करेंगे.

सुबह मीडिया में खबर आयी की पाकिस्तानी फाइटर ने भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की जिसका भारतीय वायुसेना ने जबाव दिया. इस दौरान दोनों के बिच डॉग फाइट हुई और दो विमानों के गिरने के बात कही गयी.

पहला अधिकारिक बयान पाकिस्तान का आया और कहा गया कि उसने 2 मिग 21 विमान मार गिराया है. तीन पायलट उसके सीमा में पकडे गये हैं. इस बारे में भारत की ओर से बयान बहुत देर बाद आया और कहा गया की पाकिस्तान ने मिलिट्री इंस्टालेशन को निशाना बनाने की कोशिश की परन्तु उसका सामना भारत के लड़ाकू विमान से हुआ और डॉग फाइट में F16 को मार गिराया. इस दौरान एक MIG21 भी क्रेश हुआ.

प्रतिक्रिया देने में पाकिस्तान बहुत ही तेज निकला और जैनेवा संधि का बिना कोई ख्याल रखे मीडिया के सामने विंग कमांडर अभिनंदन की परेड करवा दी. साथ ही उनका लहु लहान वीडियो सोशल मीडिया पर डाल दिया. इसमें पाकिस्तान की मजबूरी भी थी क्योंकि 1 दिन पहले भारतीय मिराज ने करीब 60-70 किमी अंदर जाकर तबाही मचा वापस आ गए थे. वहां के रक्षामंत्री के अनुसार रात के अंधेरे में नुकसान का आकलन नहीं कर पाये जो आज के आधुनिक दुनिया में हास्यास्पद है

पूरे प्रकरण में एक बात साफ थी कि पाकिस्तान के आक्रमण का भारतीय वायुसेना ने मुहतोड़ जबाव दिया और फिर से उसके सिमा मैं घुसकर प्रहार किया. इसी दौरान मिग 21 मारा गया जो कि उस समय पाकिस्तान भीतर F16 को खदेड़ रहा था. देर शाम तक यह साफ हो गया था कि सिर्फ 1 मिग 21 क्रैश हुआ था. दूसरे विमान को लेकर पाकिस्तान अपना बयान बदलता रहा.

इसी बीच सोशल मीडिया के माध्यम से दूसरे विमान का मलबा सामने आया जिसे सिमा के दोनों ओर के रक्षा विशेषज्ञों ने अध्ययन किया और बताया कि वह F16 ही है जिसे पाकिस्तान ने जॉर्डन से खरीदा था. यह 2 पायलट वाला लड़ाकू विमान जिसे पहले जोर्डन ने इस्तेमाल किया और फिर पाकिस्तान को बेच दिया.

ट्विटर यूजर जातिश त्यागी ने पाकिस्तान के स्थानीय लोगों द्वारा लिया गया वीडियो ट्वीट किया जिसमें साफ दिख रहा है की 2 पायलट पैरासूट से नीचे आ रहा है. इसका ऑडियो भी क्लियर है जिसे सुना जा सकता है. दूसरे यूजर Tuku ने इसका पार्ट्स के नंबर से F16 के डेटा से वेरीफाई करके दिखा दिया कि यह पाकिस्तान का ही विमान है. सभी ट्वीट आप नीचे देख सकते हैं.

पाकिस्तान का 3 पायलट वाला बयान , एक विमान से 2 पायलट के नीचे आने का वीडियो और मलवे से मिले सबूतों के आधार पर यह यकीनी तौर पर कहा जा सकता है कि दूसरा विमान पाकिस्तान का F16 था जिसे वह अपनी शर्मिंदगी बचाने के लिये छुपा रहा है. यह पहली बार हुआ है जब मिग 21 (3rd generation) एयरक्राफ्ट ने अत्याधुनिक F16 (4th generation) एयरक्राफ्ट को मार गिराया जो भारतीय पायलट पायलट के दक्षता को दर्शाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here