श्रमिक स्पेशल ट्रेन के मामले में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे को ट्विटर पर घेरा

0
1106

कोरोना काल की चुनौती के इस पल में जब जरूरत है की हम सब इसके खिलाफ एक होकर लड़े तो भारत में राजनीतिक दल आपस में ही भिड़ने में व्यस्त हैं. उत्तर से दक्षिण तक यही सब देखने को मिल रहा है. अब रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्विटर के माध्यम से महाराष्ट्र सरकार को घेरा है. गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार केंद्र से अधिक से अधिक ट्रेन चलाने की मांग कर रही थी और कह रही थी कि वह अपनी तरफ से तैयार है, रेलवे की तरफ से ट्रेनों की सुविधा नहीं दी जा रही है. इस पर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लगातार कई ट्वीट करके महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और महाराष्ट्र सरकार को घेरा.

पहले ट्वीट में उद्धव ठाकरे का हाल चाल लेते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि वह कल की तारीख में 125 ट्रेन चलाने को तैयार हैं. उद्धव ठाकरे बताएं क्या उनके पास श्रमिकों की लिस्ट तैयार है. इसके बाद लगातार कई ट्वीट करके पीयूष गोयल आक्रामक होते गए उन्होंने पूछा कि बताया जाए कि ट्रेन कहां से चलेगी यात्रियों की ट्रेनों के हिसाब से सूची उनका मेडिकल सर्टिफिकेट ट्रेन कहां जानी है. यह सब सूचना महाराष्ट्र सरकार 1 घंटे में मध्य रेलवे के महाप्रबंधक को पहुंचाए ताकि रेलवे अपनी योजना बना सके.

अगले ट्वीट में रेल मंत्री ने कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि ट्रेनें पहले की तरह वापस खाली ना जाए उन्होंने उद्धव ठाकरे को आश्वस्त किया कि वो जितनी ट्रेनें कहेंगे उतनी ट्रेन उपलब्ध कराई जाएंगी.

इसके बाद के ट्वीट में रेलवे मंत्री और आक्रामक होते चले गए और कहा कि उन्हें टीवी के माध्यम से पता चला है कि महाराष्ट्र सरकार ने 200 ट्रेनों की सूची भारतीय रेलवे को देने का दावा किया है. उन्होंने आरोप लगाया कि कल चलने वाली एक भी ट्रेन की सूची मध्य रेलवे के अधिकारियों के पास नहीं पहुंची है, इसलिए महाराष्ट्र सरकार जल्द से जल्द सूची पहुंचाए. थोड़ी देर बाद उन्होंने फिर ट्वीट किया और कहा कि तकरीबन डेढ़ घंटे का समय बीत गया है और महाराष्ट्र सरकार की तरफ से मध्य रेलवे को कोई सूची नहीं पहुंचाई गई है उन्होंने शिकायत की कि ट्रेन प्लान करने में समय लगता है और रेलवे नहीं चाहता कि ट्रेन स्टेशन पर आकर खाली खड़ी रहे इसके पूरी जानकारी जरूरी है.