मोदी सरकार के मंत्री पर नौ महिला पत्रकारों ने लगाया यौन शोषण का गंभीर आरोप

0
1115
minister-of-modi-bjp-government-accused-by-9-women-for-the-sexual-harassment-IndiNews-मोदी सरकार के मंत्री पर नौ महिला पत्रकारों ने लगाया यौन शोषण का गंभीर आरोप
Image Source: twitter.com/mjakbar

मोदी सरकार के प्रमुख मंत्री एमजे अकबर पर नौ महिला पत्रकारों ने यौन शोषण का आरोप लगाया है| #MeToo या “मी टू’ मुहीम के तहत दुनियाँ भर की महिलाएं अपनी साथ हुई यौन शोषण से जूरी बातों को दुनिया के सामने सोशल मीडिया के जरिये रख रही है जिसे #MeToo के साथ पोस्ट किया जाता है जिसके कारन भी इसे #MeToo या “मी टू’ मुहीम/कैंपेन कहा जा रहा है|

हाल के दिनों में बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा जाने मने अभिनेता नाना पाटेकर पर ऐसा ही आरोप लगाया गया था जिसके बाद से #MeToo मुहीम की काफी चर्चा हो रही है और एक के बाद एक कई महिलाओं ने अपने साथ हुए शोषण से जूरी घटनावों को दुनिया के सामने रखने का हिम्मत जुटा पा रही है| इस मुहीम के प्रभाव को देखते हुए जिन पर भी आरोप लगा वो खुद या उनसे जुरे लोगों ने किसी ना किसी माध्यम से अपने-अपने पक्षों को रखा है चाहे वो नाना पाटेकर हों, फैंटम फिल्म्स के संस्थापक विकास बहल हों या कोई और सबने अपना पक्ष रखा है लेकिन एमजे अकबर के तरफ से अभी तक कोई बयान तक नहीं आया है|

NDTV खबर में छपे लेख के अनुसार, वन्य जीवों की दुनिया पर लिखने वालीं पत्रकार और The Vanishing: India’s wildlife crisis की लेखिका प्रेरणा सिंह बिंद्रा ने भी कई ट्वीट किए और नाम लेकर एमजे अकबर के साथ अपनी उन स्मृतियों को साझा किया| प्रेरणा ने लिखा है कि मैं यह बात हल्के में नहीं कह रही. मुझे ग़लत आरोप का अंजाम मालूम है. अब तो उस घटना के 17 साल हो गए, मेरे पास ठोस प्रमाण भी नहीं हैं. लेकिन तब मैं नौजवान थी. मुझे फीचर एडिटर बना दिया था. मैं अपने संपादक की प्रतिभा से काफी प्रभावित थी. एक रात जब होटल के कमरे में बुलाया तो मना कर दिया. उसके बाद से मेरा जीवन नरक कर दिया. प्रेरणा सिंग के अलवा पत्रकार प्रिया रमानी ने भी खुलके एमजे अकबर का नाम लिया है|

बता दें की एमजे अकबर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा-BJP) के वर्तमान मोदी सरकार में केन्द्रीय विदेश राज्य मंत्री के पद पर है, ऐसे में हर बात पर ट्वीट करने वाली और ट्विटर पर सबसे अधिक एक्टिव माने जाने वाली शुष्मा स्वराज जो की मोदी सरकार में विदेश मंत्री भी हैं एकदम चुप दिख रही| इतना ही नहीं मीडिया द्वारा सवाल पूछने पर एक शब्द तक नहीं बोल रही|

शुष्मा स्वराज के बारे में कहा जाता है  की वो हमेसा आगे बढ़कर अपना पक्ष रखती हैं चाहे मामला कोई भी हो और सायद ही ऐसा कभी किसी ने देखा होगा जब वो मीडिया के सवाल से भाग रही हो| ये सीधा शुष्मा स्वराज और उनके मंत्रालय से ज़ुरा मामला है इसलिए सवालों से भागने के बदले अपने विभाग के सबसे बड़े पद पर होने के तहत भी शुष्मा स्वराज को जवाब देना चाहिए|

minister-of-modi-bjp-government-accused-by-9-women-for-the-sexual-harassment-IndiNews-मोदी सरकार के मंत्री पर नौ महिला पत्रकारों ने लगाया यौन शोषण का गंभीर आरोप
Image Source: DNA India

केंद्रीय विदेश मंत्री शुष्मा स्वराज ही नहीं, भाजपा के सभी छोटे बरे नेता एमजे अकबर से जुरे सवालों से कन्नी कट रहे, ऐसे में अंदाज़ा लगाया जा सकता है एमजे अकबर के ताकत और पहुँच का| हालांकि यौन शोषण के आरोपी विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर अभी नाइजीरिया दौरे पर हैं और जल्द ही भारत लौटने वाले हैं, अब देखना होगा की देश से जुरे असली मुद्दे जैसे की किसानों का धरना, पेट्रोल की आसमान छूती कीमत, और धुल चाट रही मुद्रा दर पर मौन बैठे हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कुछ बोलते हैं या नहीं|

वैसे, ऐसा उम्मीद करना थोरा अट-पटांग होगा क्योंकि ये मानना तो मुश्किल है मोदी जी को पता नही होगा की उनके साथ कम कर रहे मंत्री पर यौन शोषण जैसे गंभीर आरोप लगे हैं, इतनी खबर तो मिल ही जाती है इस डिजिटल दौर में; लेकिन इसके बाद भी अभी तक ना विदेश मंत्रालय, ना बीजेपी, और ना ही सरकार के तरफ कुछ नहीं कहा गया है इस्तीफा लेना तो दूर की बात है|

तरीके से प्रधानमंत्री मोदी को इस मामले की निष्पक्ष जांच करानी चाहिए और तत्काल ही एमजे अकबर का इस्तीफा ले लेना चाहिय साथ ही जाँच पूरी होने तक पार्टी या सरकार से जुरे सभी पदों से भी हटा देना चाहिय ताकि जाँच निष्पक्ष तरीके से हो सके|

मोदी सरकार के गठबंधन में सहयोगी पार्टी शिवसेना ने भी ने कई महिला पत्रकारों द्वारा यौन शोषण के आरोप लगाने के बाद केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर को पद से हटाने की मांग की है|